Mantra For Surya Namaskar - सूर्य नमस्कार के लिए मंत्र | Surya Namaskar Pose


Mantra For Surya Namaskar सूर्य नमस्कार के लिए मंत्र - Surya Namaskar Pose

Surya Namaskar Mantra
Mantra For Surya Namaskar


सूर्य नमस्कार - Surya Namaskar -  

सूर्य नमस्कार प्रतिदिन करने से आयु , बल , वीर्य और तेज बढ़ता है , साथ ही त्वचा रोग भी दूर रहते है ,  उदार रोग और कब्ज जैसे रोगो में सूर्य नमस्कार चमत्कारिक रूप से काम करता है तथा आश्चयर्चकित कर देने बाले रिजल्ट्स मिलते है , पाचनक्रिया  को दुरुस्त करता है आपके शरीर को बलबान बनाता है| सूर्य नमस्कार का धार्मिक रूप से भी हमारे देश में एक अलग ही महत्व है , लोगो का ऐसा मानना है की सूर्यनमस्कार करते समय सूर्यदेव के मंत्रो का जाप करने से सूर्य देव प्रसन्न होते है और जीवन में कृपा दृस्टि बनाये रखते है | 


सूर्य नमस्कार करते समय मंत्र उच्चारण करना चाहिए -

सूर्य नमस्कार के तेरह मंत्र : –

ॐ मित्राय नमः

ॐ रवये नमः

ॐ सूर्याय नमः

ॐ भानवे नमः

ॐ खगाय नमः

ॐ पूष्णे नमः

ॐ हिरण्यगर्भाय नमः

ॐ मरीचये नमः

ॐ आदित्याय नमः

ॐ सवित्रे नमः

ॐ अर्काय नमः

ॐ भास्कराय नमः

ॐ श्री सबित्रू सुर्यनारायणाय नमः


सूर्य नमस्कार के विषय में शास्त्रों में एक श्लोक प्रचलित है जिसे सूर्य नमस्कार करते समय स्मरण करना चाहिए 

आदित्यस्य नमस्कारान् ये कुर्वन्ति दिने दिने।

आयुः प्रज्ञा बलं वीर्यं तेजस्तेषां च जायते ॥


सूर्य नमस्कार करने के १० फायदे - 10 Benefits of Surya Namaskar :

1-सूर्य नमस्कार के फायदे 

2- पाचनतंत्र दुरुस्त होता है |

3- स्वस्थ्य बेहतर होता है |

4- सूर्य नमस्कार करने से पेट की चर्वी कम होती है |

5- सूर्य नमस्कार करने से चिंता मुक्त रहते है |

6- स्ट्रेस और अनिद्रा से निजात मिलता है |

7- शरीर में लचीलापन और स्फूर्ति आती है |

8- महिलाओ को मासिकधर्म की समस्या से मुक्ति मिलती है |

9- रीढ़ की हड्डी को मजबूती मिलती है , साथ ही कमर दर्द से निजात मिलता है |

10- बजन कम (weight lose ) करने में है सहायक |

Mantra For Surya Namaskar


सूर्य नमस्कार किसे नहीं करना चाहिए -: 

सूर्य नमस्कार एक ऐसा योगासन है जिसके करने से बताया जाता है की सभी योगासन करने के सामान ही लाभ प्राप्त होता है | अगर कोई व्यक्ति सूर्य नमस्कार विधिबत करता है तो उसे अन्य कोई योगासन या gym जैसे व्यायाम करने की कोई आवस्यकता नहीं रह जाती | सूर्य नमस्कार को सभी योगासनों में उत्तम माना गया है |

1- गर्भ धारण करने के बाद तीसरे महीने में सूर्यनमस्कार करना बंद कर देना चाहिए , नहीं तो गर्भ में पल रहे शिशु के लिए समस्या उतपन्न हो सकती है

2- साथ ही अगर कोई व्यक्ति हर्निया से परेशान है तो उसे सूर्य नमस्कार नहीं करना चाहिए |

3- उच्च रक्तचाप (high blood pressor ) का मरीज है तो भी सूर्यनमस्कार नहीं करना चाहिए |

4- महिलाये मासिकधर्म के दौरान इस आसान को न करे |

5- पीठ दर्द और रीड की हड्डी में दर्द के समय डॉक्टर से उचित सलाह के बाद ही आसान करे |


यह भी पढ़े : सूर्य नमस्कार के बारे में सम्पूर्ण जानकारी के लिए यहां पढ़े >>


Post a Comment

1 Comments

  1. So in essence, a production cycle instantly correlates to the number of elements an injection mould will ready to|be capable of|have the flexibility to} produce in its lifetime. Polyoxymethylene is a type of acetal resin used to Underwear make mechanical and automotive elements that would usually be made with metallic. This engineering thermoplastic material may be very strong, robust, and rigid. It’s usually used to provide gears, fasteners, knife handles, and ball bearings.

    ReplyDelete